धूम्रपान के नुकसान और कुछ रोचक तथ्य - Bhartiyaweb

धूम्रपान के नुकसान और कुछ रोचक तथ्य

दोस्तों धूम्रपान करना बहुत ही बुरी बात है, धूम्रपान के नुकसान बहुत होते हैं, ये बात तो आप सब जानते ही हैं लेकिन क्या आप जानते हैं WHO के अनुसार हर साल लगभग 64 लाख लोग धूम्रपान की वजह से मर जाते हैं, भारत मे यह संख्या 9 लाख है। धूम्रपान से संबंधित लोगों के मन मे बहुत सी ग़लत फहमियाँ हैं आज हम ऐसी ही कुछ ग़लतफहमियों को डोर करने की कोशिश करेंगे।

धूम्रपान के नुकसान

धूम्रपान के नुकसान और कुछ रोचक तथ्य

1. धूम्रपान करने के साथ अगर अच्छा आहार लिया जाए तो इससे नुकसान नही होते। दोस्तों ये बात एकदम ग़लत है, धूम्रपान का असर आपके फेफड़ों मे होता है इससे आपके आहार का कोई लेना देना नही है। अगर आप धूम्रपान करेंगे तो आपको नुकसान ज़रूर होंगे।

2.लाइट या माइल्ड सिगरेट ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचाती है। ये बात भी एकदम ग़लत है दोस्तों, एक स्टडी मे यह पाया गया है की लाइट सिगरेट पीने वाले लोग ज़्यादा तेज़ी से धुआँ खीचते हैं इसीलिए उनको उतना ही नुकसान होता है जितना सामान्य सिगरेट पीने वालों को होता है।

3.बहुत से लोगों का ये कहना है की ई सिगरेट कोई नुकसान नही पहुँचाती है, दोस्तों एक शोध से पता लगा है की ये बात भी एकदम झूठ है, ई सिगरेट पीने से भी उतना ही नुकसान होता है जितना सामान्य सिगरेट पीने से, ई सिगरेट पीने से कैंसर होने के किससे भी सामने आ चुके हैं।

4.सिगरेट में मौजूद सिर्फ निकोटिन और टार ही नुकसान पहुंचाते हैं। दोस्तों सिगरेट मे निकोटिन और टार के अलावा एरोमेटिक हाइड्रोकार्बन जैसे कई जानलेवा तत्व होते हैं जो कैंसर की समस्या पैदा करते हैं।

5. अगर सिगरेट की मात्रा कम कर दी जाए तो इससे नुकसान नही होता है, दोस्तों ये भी ग़लत तथ्य है, सिगरेट की मात्रा कम करने से उससे होने वाले नुकसान कम नही होते। अगर आप दिन मे एक या दो सिगरेट ही पिएँगे तो भी आपको नुकसान होंगे और कम सिगरेट पीने की वजह से तलब बढ़ जाती है इसीलिए सिगरेट छोड़ना ही सही है।

दोस्तों धूम्रपान करना आपकी जान भी ले सकता है इसीलिए बेहतर यही होगा की आप धूम्रपान का त्याग करें और स्वस्थ जीवन अपनाएँ, कॉमेंट मे अपनी राय दीजिए और जुड़े रहिए हमारे साथ क्योंकि ये है आपकी अपनी वेबसाइट।

और पढ़ें – सोमरस क्या होता है, सोमरस से जुड़े रोचक तत्थ

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *