जिंदा भूतों का रहस्य - इन्हे छूते ही हो जाती है मौत - Bhartiyaweb

जिंदा भूतों का रहस्य – इन्हे छूते ही हो जाती है मौत

दोस्तों दुनिया मे ना जाने कितने रहस्य हैं जिनके बारे मे हम कुछ भी नही जानते। दूर दराज इलाक़ों के छोटे छोटे कबीलों से कई बार ऐसी जानकारियाँ सामने आती हैं जो हमे हैरानी मे डाल देती हैं। आज हम आपको जिंदा भूतों का रहस्य और एक ऐसी ही रहस्यमयी प्रक्रिया के बारे मे बताने जा रहे हैं जो आपके लिए अंजानी है।

जिंदा भूतों का रहस्य

जिंदा भूतों का रहस्य – इन्हे छूते ही हो जाती है मौत

दोस्तों पश्चिम अफ्रीका मे एक छोटा सा देश है जिसका नाम बेनिन है, काला जादू और वूडू की शुरूवात यहीं से हुई है। दोस्तों बेनिन मे एक खूफिया संगठन है, इस संगठन के लोगों को इगुनगुन कहा जाता है। लोग इन्हे जिंदा भूत कहते हैं क्योंकि उनकी मान्यता है की इगुनगुन अगर किसी व्यक्ति को ग़लती से छू दे तो उस व्यक्ति और इगुनगुन दोनो की मौत हो जाती है।दोस्तों ये लोग देखने मे काफ़ी अजीब लगते हैं। पहली बात तो ये की इगुनगुन संगठन मे जो लोग होते हैं उनके बारे मे किसी को भी पता नही होता। वो लोग खुदको रंग बिरंगे कपड़ों से छुपाकर रखते हैं। खुदको छुपाने के पीछे दो कारण हैं, पहला तो ये की कपड़ों से खुद को ढँक लेने से उन्हे कोई पहचान ही नही पाता, दूसरा कारण ये की अगर ग़लती से किसी को स्पर्श हो जाए तो उनकी मृत्यु ना हो। इगुनगुन लोग अपने हाथों मे भी दस्ताने पहनते हैं और चेहरे को भी कपड़ों से ढँक लेते हैं।अब बात करते हैं इनके काम के बारे मे, आख़िर क्यों ये संगठन बनाया गया है और इसकी क्या मान्यता है। दोस्तों इस देश मे जब गाँव वालों के बीच लड़ाई झगड़ा होता है, या फिर कोई भी अपराध होता है तो फ़ैसला करने के लिए बुजुर्गों की राय ली जाती है, ठीक वैसे ही जैसे हमारे गाँव मे पंच हुआ करते थे। लेकिन वो पूर्वज जो फ़ैसले करने मे माहिर थे अब नही रहे, उनकी मृत्यु हो चुकी है। ये संगठन उनकी आत्मा को अपने शरीरों मे बुलाकर फ़ैसले करता है। लोगों का मानना है की उनके पूर्वज इगुनगुन के शरीर मे आकर फ़ैसले सुनते हैं जो सबकी भलाई के लिए होते हैं।

इगुनगुन के साथ एक पहरेदार और ढोल वाला होता है, जब भी इन्हे बुलाया जाता है तब ढोल वाला ढोल बजता है और इगुनगुन खूब नाचते हैं। उनके साथ जो पहरेदार होता है उसके हाथ मे एक लकड़ी होती है, वो इगुनगुन और दूसरे लोगों को करीब नही आने देता, अगर कोई उन्हे ग़लती से छू ले तो उनकी मौत ना हो जाए इसी वजह से पहरेदार रखा जाता है।

दोस्तों ये था जिंदा भूतों का रहस्य आशा है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी, अपनी राय कॉमेंट मे ज़रूर दीजिए और अगर आप किसी विषय मे जानकारी चाहते हैं तो कॉमेंट मे लिखिए हम आपके लिए जानकारी लेकर आएँगे। जुड़े रहिए हमारे साथ क्योंकि ये है आपकी अपनी वेबसाइट।

और पढ़ें – भारत के पाँच हॉंटेड रास्ते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *