आख़िर क्या रहस्य है इस द्वीप का, जानिए पूरी सच्चाई - Bhartiyaweb

आख़िर क्या रहस्य है इस द्वीप का, जानिए पूरी सच्चाई

दोस्तों भूतों का अस्तित्व अभी तक एक राज़ ही है, विज्ञान भूतों को और ऐसी किसी भी चीज़ को नही मानता जिसे साबित ना किया जा सके। वहीं दूसरी ओर लाखों लोगों का मानना है की भूत होते हैं। आपने भी ऐसी कई जगहों के बारे मे सुना होगा जहाँ भूतों को देखा गया हो, आज हम आपको एक ऐसे द्वीप के बारे मे विस्तार से बताने वाले हैं जिसमे भूतों का बसेरा है।

दोस्तों हम बात कर रहे हैं उत्तरी अमेरिका के मेक्सिको शहर से 17 मील दक्षिण मे स्थित एक द्वीप की, जिसे ‘डॉल आइलॅंड’ के नाम से जाना जाता है। इस द्वीप की खास बात यह है की यहाँ हज़ारों गुड़िया लटकी हुई हैं जो दिखने मे बेहद डरावनी हैं। दोस्तों ये छोटा सा द्वीप लोगों की नज़र मे सन 1990 मे आया जब मेक्सिको सरकार ने वहाँ सफाई का काम शुरू किया। सवाल ये उठता है की आख़िर इतनी सारी गुड़िया वहाँ कैसे पहुँची। इसके पीछे की कहानी बड़ी रोचक है। दोस्तों डॉन जूलियन सेंटाना बार्रेरा नाम का एक आदमी था, ये कहानी उसी से जुड़ी हुई है, उसकी तस्वीर आप नीचे देख सकते हैं।

ये व्यक्ति इस द्वीप पर अकेला रहता था, ये अपना परिवार छोड़कर इस द्वीप पर एकांत मे रहने आया था। सेंटाना के यहाँ आने के कुछ दिनों बाद उसे एक लड़की की लाश मिली जिसकी मौत पानी मे डूबने से हो गयी थी, वो लड़की अपने मा बाप के साथ वहाँ घूमने के लिए आई थी। उस लड़की की मौत के कुछ दिन बाद सेंटाना को उसी जगह पर एक तैरती हुई डॉल मिली जहाँ उस लड़की की मौत हुई थी। सेंटाना ने उस गुड़िया को निकाला और ना जाने क्यों उसे ये एहसास हुआ की उस गुड़िया मे उस छोटी लड़की की आत्मा है जिसकी डूबने से मौत हुई थी। सेंटाना ने उस गुड़िया को एक पेड़ पर लटका दिया, इसके बाद उसे हर रोज एक तैरती हुई गुड़िया मिलने लगी। जब भी उसे कोई गुड़िया मिलती वो उसे निकालकर किसी पेड़ मे लटका देता था। उसे ऐसा लगता था की गुड़िया को पेड़ मे लटका देने से वो आत्मा उसे परेशान नही करेगी। सन 2001 मे सेंटाना भी उसी जगह डूबकर मर गया जहाँ उस बच्ची की मृत्यु हुई थी। स्थानीय लोग कहते हैं की इन गुड़ियाओं मे उसी बच्ची की आत्मा है, उनका कहना है की ये गुड़िया आपस मे बाते करती हैं और लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करती हैं। लोगों ने बताया की सेंटाना भी मरने के वक़्त उसी आत्मा के प्रभाव मे आ गया था। इस द्वीप की कहानी को मीडीया ने सबके सामने लाया, और फिर वहाँ लोगों की भीड़ लग गई।

दोस्तों ये कहानी कितनी सच है इसका दावा हम नही कर सकते लेकिन आपकी राय हमारे लिए बहुमूल्य है, आप अपनी राय कॉमेंट मे ज़रूर दीजिए और जुड़े रहिए हमारे साथ क्योंकि ये है आपकी अपनी वेबसाइट।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *